सचिन तेंदुलकर को बेटे को पहली बार मिली टीम इंडिया में जगह

सचिन तेंदुलकर के बेटे बायें हाथ के तेज गेंदबाज और मध्यक्रम के बल्लेबाज हैं, वो गेंद को दोनों तरफ स्विंग कराते हैं, उनकी लंबाई 6 फीट 1 इंच है।

New Delhi, Jun 08 : मास्टर-ब्लास्टर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर का चयन अंडर-19 टीम इंडिया में हुआ है। मालूम हो कि अगले महीने अंडर-19 टीम इंडिया को श्रीलंका दौरे पर जाना है, जूनियर तेंदुलकर का चयन पहली बार राष्ट्रीय टीम में किया गया है। मालूम हो कि श्रीलंका दौरे पर टीम इंडिया को दो चार दिवसीय मैच और पांच वनडे खेलने हैं, जिसमें अर्जुन का चयन 4 दिवसीय मैचों के लिये किया गया है। उन्हें वनडे टीम में शामिल नहीं हैं।

Advertisement

ऑलराउंडर हैं अर्जुन
सचिन तेंदुलकर के बेटे बायें हाथ के तेज गेंदबाज और मध्यक्रम के बल्लेबाज हैं, वो गेंद को दोनों तरफ स्विंग कराते हैं, उनकी लंबाई 6 फीट 1 इंच है। बेंगलुरु में गुरुवार को अंडर-19 की दो टीमों की घोषणा की गई, ये चयन बैठक दिलचस्प इसलिये बन गई क्योंकि अर्जुन तेंदुलकर को लंबे प्रारुप के लिये पहली बार राष्ट्रीय टीम में चुना गया है। अब सबकी नजरें इस टूर्नामेंट पर टिकी होगी, कि जूनियर तेंदुलकर क्या करते हैं।

Advertisement

अर्जुन का प्रदर्शन
आपको बता दें कि पिछले दिनों अर्जुन ने कूच बिहार ट्रॉफी (अंडर-19 ) में पांच मुकाबलों में 18 विकेट हासिल किये थे। वो इस सीजन में सबसे ज्यादा विकेट हासिल करने वाले 43वें नंबर के गेंदबाज हैं। मध्य प्रदेश के खिलाफ उन्होने पांच विकेट हासिल किया था, इस मुकाबले में उन्होने 95 रन देकर 5 विकेट झटके थे। पिछले कुछ महीनों से सचिन के बेटे लगातार अपनी प्रदर्शन की वजह से सुर्खियों में रहे हैं।

क्यों मिला अर्जुन का मौका ?
बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने जानकारी दी कि बीसीसीआई और अंडर-19 के कोच राहुल द्रविड़ के स्पष्ट दिशा-निर्देश दिया है, कि जो खिलाड़ी इस साल 19 साल की उम्र पार कर जाएंगे, उन्हें टीम में नहीं चुना जाएगा। भले ही उन्होने अच्छा प्रदर्शन किया हो। द्रविड़ के मुताबिक ऐसे खिलाड़ी रणजी ट्रॉफी खेले, इसी वजह से कई लड़के अर्जुन से आगे होने के बावजूद छंट गये। जिससे जूनियर तेंदुलकर को मौका मिला।

सचिन तेंदुलकर हैं बेहद खुश
मास्टर ब्लास्टर अपने बेटे के चयन से बेहद खुश हैं, उन्होने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि अर्जुन के लिये ये बड़ा प्लेटफॉर्म साबित हो सकता है, इस साल जनवरी में जूनियर तेंदुलकर ने उस समय सुर्खियां बटोरी थी, जब उन्होने ऑस्ट्रेलिया में क्लब मैच खेलते हुए गेंद और बल्ले से ऑलराउंड प्रदर्शन किया था।